लालू बोले-जंगल राज चिल्लाने वाले कहां हैं? तेजस्वी ने कहा, बड़े साहब के आदेश का था इंंतजार

0
1309
Share

कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुए बिहार सरकार ने पांच मई से 15 मई तक लॉकडाउन लगा दिया है। आदेश के बाद सियायत शुरू हो गई है। सहयोगी जीतन मांझी के बाद अब विपक्ष भी हमलावर हो गया। पटना हाईकोर्ट द्वारा मंगलवार को कोरोना पर किए गए इंतजाम को लेकर नाराजगी पर राजद सुप्रीमो लालू यादव और सदन में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने चुटकी ली है। 

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू यादव जेल से बाहर आने के बाद ट्विटर पर काफी एक्टिव हो गए हैं। कोरोना को लेकर पटना हाईकोर्ट की सरकार के लिए की गई टिप्पणी पर लालू ने कहा कि महामारी में भी नीतीश सरकार गंभीर और मानवीय नहीं है। लालू यादव ने पूछा कि जंगलराज-जंगलराज चिल्लाने वाले कहां गए? राजद सुप्रीमो के साथ उनके बड़े बेटे भी नीतीश सरकार पर हमलावर हो गए।

जब गांव-गांव संक्रमण फैल गया तो कर रहे दिखावा

सदन में नेता प्रतिपक्ष व राजद विधायक तेजस्वी यादव ने कहा कि 15 दिन से समूचा विपक्ष लॉकडाउन लगाने की मांग कर रहा था लेकिन छोटे साहब अपने बड़े साहब के आदेश का पालन कर रहे थे कि दो मई तक लॉकडाउन नहीं लगाना है। तेजस्वी ने कहा कि अब जब गांव-गांव, टोला-टोला संक्रमण फैल गया तब दिखावा कर रहे हैं। इस संकट काल में तो निम्नस्तरीय राजनीति से बाहर आइए, बाज आइए।

जंगलराज की खुदाई करो ना?

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि माननीय पटना हाईकोर्ट ने नीतीश सरकार की अव्यवस्था, कुप्रबंधन, उदासीनता, लापरवाही, सुविधाओं, जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता इत्यादि को लेकर विगत दिनों में जिन विशेषणों का प्रयोग किया है उसे सुन 16 वर्षों के सीएम को सोचना चाहिए। तेजस्वी ने कमेंट करते हुए लिखा कि सीएम साहब, जंगलराज की खुदाई करो ना?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here