33हजार के जर्जर तार को बदलने की मांग

0
344
Share

परिहार | 22 वर्षों से 33हजार के जर्जर तार से परिहार में हो रही हैं विधुत आपूर्ति, बदलने की मांग,गौरतलब हो कि जब विधुत विभाग सरकार के अधीन था,तब भी उसी तार से आपूर्ति हो रही थी,अब विधुत विभाग नार्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूटर कम्पनी के हाथ में है, फिर भी उसी तार से विधुत आपूर्ति की जा रही हैं।जिस वजह से आय दिन तार टूटने की शिकायत आती रहती हैं।

पोल की दूरी भी अधिक है,जिससे तेज हवा का झोंका बर्दाश्त नहीं कर पाता है,इंसुलेटर पंचर होने की घटना तो आम बात है,युवा राजद के प्रदेश सचिव कामरान आरिफ ने बताया कि जिस प्रकार से कम्पनी ने राजस्व वसूली करने के लिए अभियान चला रखा था, उसी प्रकार व्यवस्था ठीक करने को भी अभियान चलाया जाए।उन्होंने कहा बिजली नहीं होने से व्यवसायी वर्ग को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है, ऐसे में उसका भरपाई का जिम्मेदार कौन होगा।

33 हज़ार तार की दूरी 40 किलोमीटर होकर सिरसिया बाजार पावर सब स्टेशन तक पहुँचती है,फॉल्ट आने पर 40 किलोमीटर तक मिस्त्री को चक्कर लगाना पड़ता है, इस दूरी सहित सभी समस्याओं को बेहतर बनाने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की बात राजद नेता ने कही है,उन्होंने कहा कुशासन के सरकार में आम लोगों की बात को पदाधिकारी तवज्जों नही देते हैं, उन्हें आम जनता की समस्या के समाधान में कोई रुचि नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here