पटना : खूनी खेल से पहले निशांत ने मोबाइल काे कर दिया था फाॅर्मेट; डाटा रिकवर कर मर्डर मिस्ट्री सुलझाएगी पुलिस

Share

पटना. अपनी पत्नी औरबेटी की गाेली मारकर हत्या करने के बाद खुदकुशी करने वाले काराेबारी निशांत सर्राफ ने यह खूनी खेल खेलने से पहले अपने माेबाइल काे पूरी तरह फाॅर्मेट कर दिया था। पुलिस ने मंगलवार को ही घटनास्थल से निशांत का मोबाइल बरामद किया था। बुधवार को मोबाइल को खंगाला गया तो पता चला कि वह पूरी तरह से फाॅर्मेट किया जा चुका है।

पुलिस ने उनकी पत्नी अलका का मोबाइल भी बेडरूम से बरामद किया है। साथ ही एक लैपटॉप भी वहां से ले गई है। पत्नी का मोबाइल और लैपटॉप लॉक है। पुलिस अलका के लॉक मोबाइल औरलैपटॉप को एक्सपर्ट की मदद से खुलवाने में जुटी है। उधर, निशांत के चार साल के बेटे इशांत सर्राफ की स्थिति अब भी गंभीर बनी हुई है। हालांकि, उसे लगी गाेली काे निकाल लिया गया है।

इस बीच, निशांत के परिजनाें और अलका के मायका के लाेगाें ने पति-पत्नी के बीच विवाद से इनकार किया है। गाैरतलब है कि मंगलवार की सुबह किदवईपुरी के मकान नंबर 46 सर्राफ निवास में बिहार के कपड़ा और ज्वेलरी के बड़े कारोबारी निशांत सर्राफ ने अपनी पत्नी अलका सर्राफ, बेटी अनन्या सर्राफ व बेटे इशांत काे बेडरूम में ही गाेली मारने के बाद खुदकुशी कर ली थी। बेटे इशांत काे छाेड़ तीनाें की माैत हाे गई थी।

डाॅक्टराें के मुताबिक चार साल के मासूम इशांत की हालत गंभीर बनी हुई है। इधर, निशांत के परिवार वाले इशांत को बचाने की हर कोशिश में जुटे हैं। उसकी जिंदगी के लिए प्रार्थना करने में जुटे हैं। वहीं दूसरी तरफ डाॅक्टरों की टीम उसके इलाज में 24 घंटे जुटी है। हर एक-दो घंटे पर उसका ऑब्जर्वेशन कर रहे हैं।

परिवार के लोगों से पुलिस ने की पूछताछ, सबने कहा- नहीं सुनी गोली चलने की आवाज
पुलिस की टीम बुधवार को भी निशांत के सर्राफ निवास में मामले की जांच करने गई थी। करीब तीन घंटे तक विधि-व्यवस्था डीएसपी राकेश कुमार और कोतवाली थानेदार रामशंकर पुलिस टीम के साथ वहां रहे। इस दौरान पुलिस ने घर में मौजूद निशांत के पिता, मां के अलावा उनकी भाभी समेत अन्य परिजनों से कई बिंदुओं पर पूछताछ की। पूछताछ में परिजनाें ने बताया कि उन्होंने गोली चलने की आवाज नहीं सुनी।

निशांत का बेडरूम सुबह में देर तक नहीं खुला तो उसके गेट को खटखटाने गए थे। इसके बाद भी नहीं खुला और भीतर से आवाज नहीं आई तो मास्टर-की से गेट को खोला गया। गेट खोलने पर देखा कि निशांत, अलका और अनन्या की माैत हो चुकी है। बेटा इशांत जख्मी था। उसकी सांस चल रही थी। उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया। इसके साथ ही पुलिस की पूछताछ में परिवार वालों ने पति-पत्नी के बीच कोई खास विवाद की बात पुलिस से नहीं बताई। इधर, पुलिस ने अलका के मायके वालों से भी पूछताछ की। लेकिन उन्होंने भी किसी तरह के विवाद से इनकार किया है।

पुलिस ने घर के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला
जांच के दौरान पुलिस ने सर्राफ निवास में लगे सीसीटीवी कैमरे को भी खंगाला। सीसीटीवी कैमरे में किसी बाहरी काे घर में प्रवेश करते नहीं पाया गया है। जो भी फुटेज मिला है, वह घर वालों का ही है। घर के आसपास लगे कैमरों को भी पुलिस खंगाल रही है।

पुलिस कर रही जांच, यूडी केस दर्ज : डीएसपी
विधि-व्यवस्था डीएसपी राकेश कुमार ने कहा कि पुलिस मामले की जांच करने में जुटी है। पुलिस उनके घर पर गई थी। परिजनाें से पूछताछ की गई है। पुलिस सभी संभावित बिंदुओंपर छानबीन करने में जुटी है। यूडी केस दर्ज हुआहै। घटना के मूल में पारिवारिक विवाद की बात सामने आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *