सोनबरसा- फतेहपुर उर्दू स्कूल में कालाजार की पहचान,व बचाव की दी गई जानकारी।

0
248
Share
मुकुन्द कुमार अग्रवाल-
* स्कूल में कोडिनेटर कालाजार की सरकारी आंकड़ा बच्चो को बता रहे थे।अचानक पहुंची मड़पा की एक महिला ने कहा-हुजूर हमरा पति के कालाजार हई,निजी क्लिनिक में इलाज होई छई।
* महिला की बातों पर सकते में आया स्वास्थ टीम,महिला से टीम लेने लगी जानकारी,कहा गया होगा सरकारी इलाज।
सीतामढ़ी जिला अंतर्गत सोनबरसा प्रखंड के फतेहपुर पठान टोल उर्दू मध्य विद्यालय में स्वास्थ विभाग की टीम द्वारा स्कूली छात्र-छात्राओं को कालाजार की जानकारी व इससे बचाव के उपाय बताए गए। साथ ही कालाजार दवा छिड़काव दल के द्वारा विभिन्न जगहों व स्कूलों में कालाजार से बचाव हेतु दवा का छिड़काव भी किया गया।
* केयर इंडिया के ब्लॉक कोडिनेटर आमोद कुमार पांडेय ने बताया कि 2 एमएम के आकार के बालू मख्खी के कारण कालाजार बीमारी उतपन्न होता है। यह मख्खी उड़ता नही है बल्कि कूदता है और एक रात में कूद कर 80 मीटर तक जा सकता है।यह अधिकतम 6 फिट ऊंचाई तक कूद सकता है।
* बताया कि दो सप्ताह से ज्यादा बुखार होने पर कालाजार हो सकता है। श्री पांडेय ने कहा कि घर,अगल बगल में कालाजार की दवा का छिड़काव जरूर कराना चाहिए। साथ ही गन्दगी से परहेज करना चाहिये।खाने से पहले हाथ धोने की भी नशीहत स्कूली छात्र-छात्राओं को दी गई।
* बताया गया कि कालाजार की जांच सभी सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध है,परन्तु इसका इलाज पुपरी,सुरसंड व सीतामढ़ी सदर अस्पताल में उपलब्ध है। श्री पांडेय ने बताया कि जिला में सरकारी आंकड़ा के मुताविक 167 कालाजार के मरीज हैं,साथ ही कालाजार के मरीज को अस्पताल आने पर मरीज के बैंक खाते में 7100 सौ रुपया दिया जाता है,वही वैसे आशा कार्यकर्ता जो मरीज को प्रोत्साहित कर अस्पताल लाती है उसे भी सरकार 500 रुपये प्रोत्साहन राषी देती है।
* हांलाकि जिले में कालाजार की आंकड़ा सरकारी आंकड़ा से कही ज्यादा होगी,जिसका जीवन्त उदाहरण भी स्कूल में ही देखने को मिला,जब फतेहपुर स्कूल में बच्चो को दी जा रही जानकारी के दौरान मड़पा की एक महिला दुधमुहे बच्चे के साथ पहुंची और बोली कि उसके पति को कालाजार है और निजी चिकित्सालय में इलाज चल रहा है।तत्काल ही स्वास्थ विभाग के उपस्थित पदाधिकारियों ने उक्त महिला से बात प्रारम्भ कर दी।
* पूछे जाने पर केयर इंडिया के ब्लॉक कोडिनेटर श्री पांडेय ने बताया कि स्वास्थ विभाग की टीम महिला के घर जाकर पति से मिलेगी और सरकारी अस्पताल में इलाज करवाएगी।
* मौके पर सरपंच मो.जहांगीर अहमद खान,एचएम रहमत अली,शिक्षक सन्तोष कुमार मयंक,तब्बसुम जहां,सोऐवूर रहमान,स्वधा कुमारी,असगर अली,सुपरवाइजर राम नाथ कुमार व राम दयाल महतो तथा आशा बबिता देवी भी उपस्थित थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here