मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गांधी मैदान में फहराया तिरंगा, कहा- भ्रष्टाचार और कानून के साथ कोई समझौता नहीं करेंगे

Share

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पटना के गांधी मैदान में झंडोतोलन किया। इस मौके पर नीतीश ने कहा कि हमारी सरकार बिहार के विकास के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी। भ्रष्टाचार और कानून के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। हमारी सरकार हर क्षेत्र में विकास का काम कर रही है। राज्य में सामाजिक सौहार्द का वातावरण है। हमारी लोगों से अपेक्षा है कि राज्य में इसी तरह शांति और भाईचारा बनी रहे। सीएम ने राज्यवासियों को रक्षाबंधन की भी शुभकामनाएं दी।

शराबबंदी ने लोगों की जिंदगी बदल दी
नीतीश ने कहा कि जब 2016 में हमने शराबबंदी लागू कि तो कुछ लोग इसका विरोध करने लगे। शराबबंदी का विरोध करने वाले लोग उन परिवारों की स्थिति को जाकर देखें। जिस परिवार के लोग शराब पीते थे उनकी जिंदगी में कितना सुधार आया है। महिलाओं की मांग पर हमने शराबबंदी का फैसला किया। सीएम ने कहा कि सिर्फ कानून से किसी चीज पर अमल नहीं किया जा सकता। इसके लिए निरंतर अभियान चलाना होगा। गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई तो होती है लेकिन लोगों को इसके लिए सजग रहना होगा। कुछ पढ़े लिखे लोग भी गलतफहमी के शिकार हैं। कुछ लोग कहते हैं शराब हमारा अधिकार है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने 2016 में शराब पर एक केस स्टडी किया। रिपोर्ट में सामने आया कि सिर्फ 2016 में शराब की वजह से 30 लाख लोगों की जान चली गई।

7 निश्चय योजना पर हमारा पूरा फोकस
सीएम ने कहा कि बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ भी हमारी सरकार सशक्त अभियान चला रही है। समाज सुधार के लिए निरंतर ऐसे अभियान चलाते रहेंगे। इसके साथ 7 निश्चय योजना पर भी हमारा पूरा ध्यान है। हर गांव को पक्की सड़क से जोड़ने का लक्ष्य है। हर घर नल का जल पहुंचाएंगे। हमने लक्ष्य रखा है कि राज्य के किसी भी कोने से लोग 5 घंटे के अंदर पटना पहुंच जाएं। सड़कों और गलियों के निर्माण के साथ उनका मेंटेनेंस भी हमारी जिम्मेदारी है। निर्माण के साथ निरंतर मेंटेनेंस होता रहेगा।

नीतीश ने कहा कि हमने 2015 से पहले कहा था कि बिना बिजली वोट मांगने नहीं जाएंगे। हमने 2018 में हर परिवार को बिजली कनेक्शन दे दिया। 2019 के अंत तक पूरे बिहार में जर्जर बिजली के तारों को बदल दिया जाएगा। लोगों को पीने के लिए स्वच्छ पानी और खुले में शौच से मुक्ति मिल जाए तो 90 प्रतिशत बिमारियों से मुक्ति मिल जाएगी।

नीतीश ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी काफी काम हो रहा है। पीएमसीएच को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का अस्पताल बनाने का लक्ष्य रखा है। पीएमसीएच में 5 हजार से भी ज्यादा बेड होंगे। मुजफ्फरपुर में एसकेएमसीएच को 2500 बेड का अस्पताल बनाएंगे। गया में भी बेड की क्षमता 1500 करने का लक्ष्य रखा है। नीतीश ने कहा कि पहले जो लोग शराब के काम में लगे थे उनके लिए सतत जीविकोपार्जन के लिए 60 हजार रुपए मदद की जा रही है। बुजुर्गों के लिए पेंशन योजना लागू की गई है।

जल जीवन हरियाली अभियान चलाएगी सरकार
जलवायु परिवर्तन को लेकर नीतीश ने चिंता जताई। उन्होंने कहा कि सरकार जल जीवन हरियाली अभियान चलाएगी। अगर जल और हरियाली है तभी जीवन संभव रहेगा। बिहार के बंटवारे के बाद हरियाली 9 प्रतिशत थी। अब यह बढ़कर 15 प्रतिशत हो गई है और इसे 17 प्रतिशत तक करने का लक्ष्य रखा गया है। बापू ने कहा था कि धरती हमारे सभी जरूरत को पूरा करने में सक्षम है लेकिन किसी के लालच को पूरा नहीं किया जा सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *