अभ्यर्थियों काे खुले आसमान के नीचे प्लास्टिक की कुर्सियों पर बैठाया, 1355 परीक्षार्थियों को जांघ काे ही बनाना पड़ा टेबल

Share

मुजफ्फरपुर.सेना बहाली में दाैड़ व शारीरिक दक्षता उत्तीर्ण अभ्यर्थियों का रविवार काे चक्कर मैदान में पहले चरण की लिखित परीक्षा ली गई। प्रशासन की ओर से परीक्षार्थियों काे टेंट वाली प्लास्टिक की बिना बांह वाली कुर्सी मुहैया कराई थी। कुर्सी पर बैठे परीक्षार्थियों ने मजबूरन जांघ पर ही टेबल तरह कॉपी रखकर परीक्षा दी।

पेपर पैड भी लेकर जाने की मनाही थी। इसी तरह 5 ट्रेड के लिए मुजफ्फरपुर समेत उत्तर बिहार के 8 जिले के 1355 परीक्षार्थियों से एक घंटे तक परीक्षा ली गई। सिपाही फार्मा के लिए बिहार- झारखंड के सभी जिलों व अन्य चार पदों के लिए मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, शिवहर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, दरभंगा, मधुबनी और समस्तीपुर जिले के अभ्यर्थियों ने भाग लिया।

जिला प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराई गई व्यवस्थाओं के तहत ही परीक्षा ली गई है। जिला प्रशासन की ओर से सिर्फ कुर्सियों ही दी गईं थीं । पायलट प्रोजेक्ट के तहत ही देश के कुछ भर्ती बाेर्ड में ऑनलाइन परीक्षा लेने की व्यवस्था है। मुजफ्फरपुर में यह व्यवस्था अभी लागू नहीं है।

कर्नल मनमोहन सिंह मनहास, सहायक निदेशक सेना भर्ती बाेर्ड मुजफ्फरपुर

जिला प्रशासन के संबंधित अधिकारियों से इस मामले की जानकारी ली जा रही है। पूरी जानकारी लेने के बाद ही कुछ बाेल पाउंगा। अगर कोई गड़बड़ी होगी तो उचित कार्रवाई की जाएगी।

आलाेक रंजन घाेष, डीएम मुजफ्फरपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *