लॉकडाउन में बेगूसराय में फंसे बाराती 60 दिन बाद कानपुर लौटे, वहां 14 दिन होम क्वारेंटाइन में रहेंगे

0
146
Share

बेगूसराय/पटना. लॉकडाउन में बेगूसराय में फंसी बारात 60 दिनों बाद दुल्हन लेकर घर लौट गई। अब बारात के सभी 11 सदस्यों को 14 दिनों के होम क्वारेंटाइन में रहना होगा । लॉकडाउन के ठीक पहले यह बारात कानपुर के चौबेपुर इलाके के हकीमनगर से आई थी। 21 मार्च को इम्तियाज का निकाह बेगूसराय की खुशबू संग हुआ था। 22 मार्च को जनता कर्फ्यू और फिर राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण बाराती बेगूसराय में भी फंस गए। लौट नहीं पाए। लड़की वाले घर ही रुकना पड़ा।

इम्तियाज के पिता महबूब ने बताया कि लड़की विदा कर लौटने के लिए उनकी ओर से जितने भी सरकारी हेल्पलाइन नंबर जारी हुए थे, सब पर संपर्क साधा गया। लेकिन कहीं से कोई मदद नहीं मिली। नतीजतन, बेगूसराय में भी रुकना पड़ा। हम सभी बाराती लड़की वालों पर अतिरिक्त बोझ बन गए। हमने मिलकर बोझ साझा किया। लड़की वालों और उनके पड़ोसियों ने भी हमारा भरपूर ख्याल रखा। दो दिन पहले हमने जिले के वरीय अधिकारियों से संपर्क साधा जिन्होंने हमे वापसी का पास मुहैया कराया।

स्थानीय लोगों की मदद से एक मिनी बस का इंतजाम हुआ और अंतत: हम सब बेगूसराय से कानपुर के लिए रवाना हुए। 20 घंटे की इस यात्रा में हाईवे किनारे लोगों ने ही हमारे भोजन-पानी का इंतजाम किया। लौटने पर चौबेपुर के इंस्पेक्टर विनय तिवारी की निगरानी में सभी बारातियों का सैंपल लिया गया। अब हमें 14 दिनों के होम क्वारेंटाइन में रहना होगा। बारात गए गांव वाले कहते हैं कि ताउम्र यह शादी नहीं भूलेंगे। हमें तनिक भी आभास नहीं था कि ऐसे फंसेंगे। बारातियों में से एक असलम ने बताया कि लड़की वालों ने इतने दिन हमारी जिस तरह आवभगत की उसके भी हम ताउम्र कायल रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here