HC से झटका के बाद LJP के लीगल सेल के साथ करेंगे मीटिंग, लोकसभा अध्यक्ष से मिलने की भी होगी कोशिश

0
250
Share

5 जुलाई से जारी आशीर्वाद यात्रा को बीच में ही छोड़कर लोजपा के अध्यक्ष और जमुई सांसद चिराग पासवान शनिवार को अचानक दिल्ली लौट गए हैं। वो आज शाम ही दिल्ली में अपनी पार्टी के लीगल सेल के साथ मीटिंग करने वाले हैं। मीटिंग में दिल्ली हाईकोर्ट की तरफ से की गई टिप्पणी के आधार पर चर्चा की जाएगी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला के फैसले को आगे किस प्रकार से चुनौती देनी है, इस बारे में फैसला लिया जाएगा।

बताया जा रहा है कि चिराग जल्द से जल्द लोकसभा अध्यक्ष से मुलाकात करने की कोशिश में भी हैं। पटना एयरपोर्ट पर एंट्री करने से पहले चिराग ने मीडिया से बात की।

दरअसल, लोकजनशक्ति पार्टी की तरफ से दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला के उस फैसले को चुनौती दी गई थी, जिसके जरिए उनके बगावती चाचा पशुपति कुमार पारस लोजपा के संसदीय दल का नेता घोषित कर दिया गया था।

लंबी लड़ाई लड़ने को तैयार

शुक्रवार को चिराग पासवान की याचिका पर हाईकोर्ट ने यह कहते हुए सुनवाई करने से मना कर दिया था कि जब केस चुनाव आयोग जैसे संवैधानिक संस्था के पास पेंडिंग है तो फिर उस पर हम कैसे सुनवाई कर सकते हैं। हाईकोर्ट की इस टिप्पणी के बाद अब लोजपा आगे की रणनीति तैयार करने में जुट गई है।

पटना एयरपोर्ट पर चिराग ने कहा कि लड़ाई लंबी है। इसके लिए तैयार हूं। हाईकोर्ट वाले विषय पर शाम में लीगल टीम के साथ मीटिंग है। मैं कानूनी जानकार नहीं हूं। ये विषय सिंबल को लेकर नहीं है। मामला लोकसभा अध्यक्ष को लेकर है।

रिश्तों को जोड़ रहा हूं: चिराग

चिराग ने कहा कि हाईकोर्ट ने यह भी कहा है कि यह मामला आयोग के पास विचाराधीन है, इसलिए पहले आपको चुनाव आयोग जाना चाहिए। अब लीगल टीम हमारी क्या कहती है? उसके बाद ही कोई फैसला लूंगा। आज की तारीख में मेरी प्राथमिकता पार्टी को बनाए रखना, लोजपा को आगे बढ़ाना है। आशीर्वाद यात्रा पूरे बिहार में होगी। गठबंधन रहेगी या टूटेगी, इसका फैसला चुनाव के वक्त होगा।

कहा- ‘जहां तक परिवार की बात है तो चाचा ने उसे तोड़ा है। मैं उसे जोड़ने की कोशिशों में जुटा हूं। इसी वजह से बड़ी मां, बहन से मुलाकात हुई। बहुत सारे इमोशनल हैं। परिवार टूटा है। भावनाएं भरी हुई हैं। इनसे मिलने से अब ताकत मिल रही है। बड़े जनसमूह का समर्थन मिला है। अब लड़ूंगा भी और जीतूंगा भी।’

आशीर्वाद यात्रा की तारीख बढ़ाई गई

आशीर्वाद यात्रा का पहला चरण 12 जुलाई तक था। प्रवक्ता राजेश भट्‌ट के अनुसार, कटिहार, पूर्णिया और अररिया में चिराग को जाना था, लेकिन अब इन जगहों पर उनकी आशीर्वाद यात्रा 16, 17 और 18 जुलाई को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here