MP राजीव प्रताप रुडी के नाम लिखी एंबुलेंस से हो रही बालू की ढुलाई, पप्पू यादव ने जारी किया वीडियो

0
554
Share

एंबुलेंस विवाद में राजनीति का तापमान गर्म करने वाला मामला आ गया है। अब एक ऐसा वीडियो सामने आया है जिसमें राजीव प्रताप रूडी लिखे एक एंबुलेंस से मरीज नहीं, बालू की ढुलाई हो रही है। इस मामले में एक तरफ चालक नहीं होने और दूसरी तरफ से मुकदमा दर्ज करने को लेकर बवाल चल रहा है। इसी बीच यह वीडियो कुछ और ही सच बयां कर रहा है। इस वीडियो को पूर्व सांसद पप्पू यादव ने जारी किया है।

एंबुलेंस में बालू की बोरियां ढोई जा रहीं

वीडियो में दिख रहा है कि एक एंबुलेंस खड़ी है। इसपर पीछे में ऊपर की ओर राजीव प्रताप रूडी लिखा हुआ है। पीछे से बोरियां लादी जा रही हैं। एंबुलेंस के ठीक पीछे बुलेट बाइक खड़ी है और पास में ही बालू का ढेर है। बालू के ढेर के पास 10 से अधिक बालू भरी बोरियां रखी हैं और अधिक बालू बिना बोरी के भी है। तीन लोग मिलकर बालू को एंबुलेंस में लोड कर रहे हैं जबकि दो लोग पीछे से बालू को एंबुलेंस में लोड कराने में मदद कर रहे हैं।

क्या है एंबुलेंस का विवाद

छपरा के अमनौर में विश्व प्रभा सामुदायिक केंद्र परिसर में दो दर्जन एंबुलेंस खड़ी हुई थीं। इन्हें ढंक कर रखा गया था। यह छपरा के BJP सांसद राजीव प्रताप रुडी का गांव है। पूर्व सांसद पप्पू यादव ने शुक्रवार को कहा था कि सांसद फंड (MPLADS) की दर्जनों एंबुलेंस यहां क्यों खड़ी हैं? इसकी जांच होनी चाहिए।

रुडी की सफाई- ड्राइवरों ने काम छोड़ा

सांसद राजीव प्रताप रुडी ने यादव के आरोपों का खंडन करते हुए कहा था कि छपरा जिला में करीब 80 एंबुलेंस है। अभी इसमें से 50 चल रही हैं। कई जगह पंचायतों में चलने वाली एंबुलेंस के ड्राइवरों ने काम छोड़ दिया था। इस वजह से बची हुई एंबुलेंस को खड़ा किया गया है। उन्होंने कहा था कि पप्पू यादव कोविड के दौरान ड्राइवर लेकर आएं और एंबुलेंस चलवाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here