गया में भर्ती मरीजों में से 5 की मौत,नालंदा में नूरसराय के युवा BDO की भी गई जान

0
423
Share

पटना के बाद मगध में कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल हो गया है। संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है तो मौतों की संख्या भी उसी रफ्तार से। गया के मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित पांच मरीजों की मौत हो गई। हद तो यह हो गई कि अस्पताल प्रशासन पांचों मरीज की मौत की खबर को छुपाता रहा। एक मृतक की पहचान ही नहीं हो सकी है। उसका शव परिजनों को नहीं सौंपा गया है। उधर, सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में नूरसराय के युवा BDO राहुल चंद्रा की कोरोना से मौत हो गई।

बीएचटी (BHT) ही नदारद

गया के मगध मेडिकल कॉलेज में शनिवार को शाम तक चली मैराथन मीटिंग के बाद 5 की मौत की पुष्टि की गई। 4 मरीजों के शव को परीजनों को सौंप दिया गया है। लेकिन पांचवां मृतक की पहचान नहीं हो सकी है। उसकी पर्ची बीएचटी (बेड हेड टिकट) ही नदारद है। इस वजह से मरीज का नाम और परिजन के बारे में जानकारी नहीं मिल रही है। मृतक के बॉडी को फिलहाल पोस्टमार्टम हाउस में सुरक्षित रखा गया है। अस्पताल उपाधीक्षक पीके अग्रवाल ने बताया कि मरीज का बीएचटी ढूंढा जा रहा है। अस्पताल में पहली मौत शनिवार की सुबह हुई थी, उसके बाद दस बजे के करीब दूसरे मरीज की मौत हो गई। फिर शाम तक तीन मरीजों ने एक-एक कर दम तोड़ दिया।

किन जिलों से हैं मृतक
एक दिन के भीतर कुछ ही घंटों पर लगातार हुई मौत से अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया। अस्पताल प्रबंधन के अधिकारियों के बीच लंबी बैठक हुई और फिर सभी मृतकों की बॉडी को उनके परिजनों को सौंप दिया गया। हालांकि अस्पताल प्रबंधन ने मरनेवालों के नाम का खुलासा अब भी नहीं किया है। मृतकों में नवादा की एक महिला, गया, जहानाबाद और पलामू के हैं। वहीं पांचवां मृतक कहां का रहने वाला है। इस बात की जानकारी अस्पताल प्रबंधन को अभी तक नहीं है।

एक सप्ताह से बीमार थे BDO
कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में नालंदा जिले के नूरसराय के BDO राहुल चंद्रा की कोरोना से मौत हो गई। राहुल चंद्रा 2013 में BPSC 53 वीं बैच के पास आउट थे। पिछले एक सप्ताह से उनकी सेहत खराब चल रही थी। इलाज के लिए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी पत्नी भी बैंक में अधिकारी हैं| वहीं पावापुरी वर्धमान आयुर्विज्ञान संस्थान (विम्स) में शनिवार को मानपुर थाना क्षेत्र के नेबाजी बिगहा गांव निवासी 45 वर्षीया महिला कांति देवी की मौत हो गयी। जबकि, हरनौत प्रखंड के रुपसपुर गांव का 55 वर्षीय अधेड़ कुकु सिंह की मौत पटना में हुई। शनिवार को नूरसराय अस्पताल के एक डॉक्टर समेत जिले में 156 कोरोना संक्रमण के नए मामले मिले हैं। हिलसा में सबसे अधिक 25 लोग संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही जिला में कोरोना के एक्टिव रोगियों की संख्या 582 हो गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here