गांव के चंवर में प्रेम का इजहार करने वाले प्रेमी युगल के राहगीर बने बाराती, जबरन मंदिर में करवा दी शादी

0
766
Share

रामगढ़ा-बसंत पकवा इनार के बीच सुनसन चंवर में प्रेम का इजहार कर रहे प्रेमी युगल की राहगीरों ने जबरन शादी करवा दी। जबरन इसलिए कि दोनों तो तैयार थे, लेकिन लड़का-लड़की के माता-पिता अंतरजातीय विवाह पर सहमत नहीं थे। चंवर में संदिग्ध अवस्था में लड़का-लड़की को देख ग्रामीण उन्हें पकड़कर रामगढ़ा हनुमान मंदिर परिसर में लाए। इसके बाद युवक-युवती के परिजनों का पता पूछ कर दोनों को सूचना दी गई।

काफी देर तक हुआ ड्रामा
युवक-युवती के माता-पिता के पहुंचने पर हाई वोल्टेज ड्राम चला, जिसे सुनकर आसपास के गांव के सैकड़ों ग्रामीण रामगढ़ा हनुमान मंदिर परिसर में प्रेमी युगल को देखने के लिए पहुंच गए। युवक पंचपटिया देवरिया गांव निवासी जवाहीर महतो का 25 वर्षिय पुत्र जितेन्द्र कुमार है तो युवती अदमापुर निवासी सुदामा महतो (काल्पनिक) की 19 वर्षीया पुत्री है।

मुखिया-सरपंच तक को बुला लिया
ग्रामीणों ने मिर्जापुर पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि मुकेश राय और सरपंच पारस राय को भी बुला लिया। दोनों जनप्रतिनिधियों ने प्रेमी युगल से विवाह को लेकर रजामंदी पूछी तो उन्होंने हां कह दिया, लेकिन युवक के माता-पिता शादी करने पर राजी नहीं हो रहे थे। जनप्रतिनिधियों के समझाने-बुझाने पर युवक के माता-पिता शादी करने पर राजी हुए। इसके बाद रामगढ़ा हनुमान मंदिर परिसर में प्रेमी युगल की शादी ग्रामीणों की उपस्थति में कराई गई।

लड़का-लड़की के माता-पिता से बांड भरवाया गया
प्रेमी युगल के माता-पिता से लिखित अनुबंध कराया गया। कुछ ग्रामीणों का कहना था की शनिवार को करीब दो बजे दिन में युवक अपने घर से साइकिल से आया था तो युवती टेम्पू से गड़खा-मानपुर रोड में रामगढ़ा-बसंत पकवा इनार के बीच आई और दोनों संदिग्ध अवस्था मे प्रेम का इजहार करने लगे। जिस पर रोड से गुजर रहे ग्रामीणों की नजर पड़ी और देखते ही देखते दर्जनों लोग इकट्ठा हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here