जमीन मुआवजे की रकम देने के लिए मांगी थी 50 हजार की रिश्वत,निगरानी ने 25-25 हजार घूस लेते दोनों को रंगेहाथ पकड़ा

0
1028
Share

पटना से बेगूसराय पहुंची निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने एक बड़ी कार्रवाई की है। भूअर्जन कार्यालय के क्लर्क मनोरंजन चौधरी और अमीन रामचंद्र को 25-25 रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। इस कार्रवाई को निगरानी की टीम ने भूअर्जन कार्यालय के दफ्तर में ही छापेमारी कर अंजाम दिया। दरअसल, एक किसान कौशल किशोर ने निगरानी मुख्यालय में एक शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें उन्होंने कहा कि जमीन के मुआवजे की पूरी रकम देने के नाम पर क्लर्क और अमीन द्वारा 50 हजार घूस की मांग की जा रही है।

मुख्यालय के आदेश पर कार्रवाई

मुख्यालय के आदेश पर आरोपों की जांच और पूरे मामले की पड़ताल के लिए एक स्पेशल टीम बनाई गई। टीम को लीड करने की जिम्मेवारी DSP सर्वेश कुमार सिंह को दी गई, जिसके बाद शुक्रवार को करीब 11:30 बजे यह टीम बेगूसराय पहुंची। भूअर्जन कार्यालय के ऑफिस में पूरा जाल बिछाया। इसके बाद जैसे ही शिकायत करने वाला शख्स रुपए लेकर वहां पहुंचा और क्लर्क और अमीन ने उसे लिया, वैसे ही निगरानी की टीम ने वहां पहुंचकर दोनों को रंगे हाथ पकड़ लिया।

12 जुलाई को लिखित शिकायत देकर लगाई न्याय की गुहार

निगरानी DSP सर्वेश कुमार सिंह ने बताया कि पीड़ित कौशल किशोर ने 12 जुलाई को लिखित शिकायत की थी कि उनकी जमीन का अधिग्रहण NH 31 ने सरकार द्वारा किया गया था। जिस जमीन के मुआवजे की रकम (₹33 लाख) देने को लेकर कर्मचारियों द्वारा 50 हजार की रिश्वत मांगी गई। शिकायत की जांच करवाई गई। जांच में रिश्वत मांगे जाने की बात की पुष्टि हुई। जिसके बाद धावा दल द्वारा को गिरफ्तार कर लिया गया। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here