डाटा इंट्री ऑपरेटर पद के लिए आए अभ्यर्थियों ने CM के खिलाफ लगाए नारे, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाईं धज्जियां

0
987
Share

कोरोना संक्रमण बढ़ाने वाली भीड़ एक जगह न जमा हो, इसलिए लॉकडाउन जैसे सख्त कदम उठाए गए। प्रशासन को हिदायत दी गई कि चौक-चौराहा, हाट-बाजारों में किसी कीमत पर भीड़ नहीं लगने देनी है, लेकिन शनिवार सुबह मोतिहारी में कलेक्ट्रेट स्थित राधाकृष्णन भवन में रोजगार की तलाश में आए युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी। सुबह 10 बजे तक परिसर में करीब 5 हजार अभ्यर्थियों की पहुंच चुकी थी। सोशल डिस्टेंसिंग क्या होता है इसका पालन करना तो ये अभ्यर्थी मानों भूल ही गए थे। न कोरोना का खौफ और न ही प्रशासन की कार्रवाई का। वरीय अधिकारी जब समझाने आए तो अभ्यर्थी आक्रोशित होकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। कोरोना काल में इंटरव्यू का आयोजन किए जाने से अभ्यर्थी आक्रोशित थे। इस दौरान उन्होंने जमकर हंगामा किया।

दरअसल, जिला प्रशासन ने डाटा एंट्री ऑपरेटर की अस्थाई नियुक्ति के लिए शनिवार को इंटरव्यू रखा था। इसके लिए मैट्रिक पास युवा (कंप्यूटर की जानकारी) को बुलाया गया था। शनिवार सुबह नौ बजे से ही भीड़ लगनी शुरू हो गई। सुबह 10 तक करीब 5 हजार अभ्यर्थी डॉ. राधाकृष्णन भवन के गेट पर जमा हो गए। इस दौरान इंटरव्यू स्थल पर न तो कोई अधिकारी थे और न ही लॉ एंड ऑर्डर के लिए दंडाधिकारी व पुलिसकर्मी।

कुछ देर बाद अभ्यर्थियों की भीड़ राधाकृष्णन भवन के मेन गेट पर पहुंच गई। राधाकृष्णन भवन में जिला कोविड कंट्रोल रूम का भी संचालन होता है। भीड़ बढ़ने से यहां के कर्मी परेशान हो गए। तुरंत ही इसकी सूचना अधिकारियों को दी गई। सूचना पर सदर SDM व SDPO वहां पहुंच गए। अधिकारियों ने इंटरव्यू के लिए पहुंचे अभ्यर्थियों को समझाने का प्रयास किया। उसमें कुछ अभ्यर्थियों का कहना था कि जब कार्यपालक सहायक की नियुक्ति के लिए पहले से पैनल बना है तो नए सिरे से इंटरव्यू कराने की क्या जरूरत थी। कोरोना काल में भीड़ जमा करने से महामारी फैलने की और आशंका है। प्रशासन ने जानबूझकर युवाओं को बुलाया है।

अधिकारी अभ्यर्थियों को समझाने का पूरा प्रयास कर रहे थे लेकिन वे नहीं मानें। गेट के पास सैकड़ों अभ्यर्थी नीतीश कुमार और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। बाद में अधिकारियों ने माइक से अनाउंस कर उन्हें समझाया। अभ्यर्थियों का रिज्यूम जमा कर उन्हें फोन से सूचना देने की बात कही। उसके बाद अभ्यर्थी शांत हुए। एक-एक कर अभ्यर्थियों ने अपना-अपना रिज्यूम जमा कराया। उसके बाद अभ्यर्थी वहां से चले गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here