पटना : बिहार बोर्ड ने माना लीक हुए थे, गणित के प्रश्नपत्र

0
1105
Share

पटना . मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा में प्रश्नपत्रों के परीक्षा शुरू होने से पहले लगातार वाट्सएप पर वायरल होने के मद्देनजर बिहार बोर्ड ने मंगलवार को प्रश्नपत्रों के बंडल खोलने का समय बदल दिया है।

दैनिक भास्कर में प्रश्नपत्रों के वायरल होने की खबर छापे जाने के बाद बोर्ड ने सभी डीएम, डीईओ तथा डीपीओ को पत्र लिखकर कहा है कि कोषागार व बैंकों से पहुंचाए गए प्रश्न पत्रों के सील्ड बॉक्स और पैकेटों को परीक्षा केंद्रों पर पहली पाली में सुबह 9 बजे और दूसरी पाली में दोपहर 1.15 बजे खोला जाएगा। इससे पहले किसी भी सूरत में नहीं। हालांकि बिहार बोर्ड अब तक प्रश्नपत्रों के लीक होने से इनकार कर रहा था। लेकिन, अब बोर्ड ने भी मान लिया है कि प्रश्नपत्र वायरल हुए हैं।

केंद्राधीक्षक और स्टैटिक मजिस्ट्रेट के सामने खुलेगा बंडल, समय भी दर्ज करना अिनवार्य : बोर्ड के सचिव अनूप कुमार सिन्हा ने निर्देश दिया है कि किसी भी परिस्थिति में परीक्षा केंद्रों पर पहली पाली में सुबह 9 बजे से पहले तथा दूसरी पाली में दोपहर 1.15 बजे से पहले प्रश्नपत्रों के सील्ड बॉक्स व पैकेट को नहीं खोला जाए। साथ ही केंद्र पर प्रतिनियुक्त स्टैटिक मजिस्ट्रेट एवं केंद्राधीक्षक के संयुक्त हस्ताक्षर के बाद ही प्रश्नपत्र खोले जाएंगे। स्टैटिक दंडाधिकारी एवं केंद्राधीक्षक द्वारा प्रश्न पत्र बॉक्स खोलने का समय भी अंकित किया जाएगा।

बोर्ड का दावा – सिर्फ दो जिलों में गणित के पेपर हुए थे वायरल : शनिवार को साइंस का प्रश्नपत्र सुबह 8.40 बजे पूरे राज्य में वायरल कर दिया गया था। सोमवार को गणित का प्रश्नपत्र भी परीक्षा से एक घंटा पहले वायरल हुआ। इधर बोर्ड के पीआरओ राजीव द्विवेदी का कहना है कि मात्र दो जिलों में ही गणित के पेपर वायरल हुए हैं। राज्यभर में वायरल होने की बात सही नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here