पटना AIIMS में कोविड मरीज ने कूदकर दी जान

0
373
Share

पटना AIIMS की 5वीं मंजिल से कूदकर 57 साल के एक कोरोना मरीज ने जान दे दी। अस्पताल प्रबंधन आत्महत्या का कारण मरीज का अपनी बीमारी से तंग आना बता रहा है। अस्पताल में इससे पहले 4 और कोरोना मरीजों ने सुसाइड कर लिया था। मृतक की पहचान बेगूसराय के निवासी रामचंद्र शाह के रूप में की गई है। घटना के बाद कोविड-19 वार्ड में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।

टॉयलेट विंडो से कूदे रामचंद्र शाह

बेगूसराय के निवासी रामचंद्र शाह को संक्रमित होने के बाद पटना AIIMS में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। रामचंद्र शाह बेंगलुरु में राइस मिल में लेबर कंस्ट्रक्शन का काम करते थे। कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखकर वह लॉकडाउन के दौरान ही अपने घर आए थे। 12 मई को उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई। जांच के क्रम में यह बात सामने आई कि रामचंद्र शाह कोरोना संक्रमित हैं। इसके बाद 18 मई को उन्हें पटना AIIMS के कोविड-19 भर्ती कराया गया।

बेटे से की थी फोन पर बात

रामचंद्र शाह के पुत्र गोपाल शाह ने बताया कि सुबह उनकी पिता से बात हुई थी। रामचंद्र शाह ने अपनी परेशानी बताते हुए कहा था कि उन्हें अस्पताल से जल्द से जल्द घर वापस ले चले। बुधवार देर शाम गोपाल शाह को यह सूचना मिली की उनके पिता रामचंद्र शाह 5वीं मंजिल के शौचालय की खिड़की से नीचे कूद गए हैं। घटना की सूचना मिलते ही अस्पताल के लोग दौड़कर उनके पास पहुंचे और इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

4 सुसाइड हो चुका है पटना AIIMS में

पटना AIIMS के वरिष्ठ डॉक्टर US भदानी ने बताया कि आत्महत्या का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कोरोना इलाज के दौरान 4 लोगों ने आत्महत्या कर ली। सबसे बड़ी बात यह है कि चार आत्महत्या के बाद भी एम्स प्रशासन ने शौचालय की खिड़कियों को दुरुस्त नहीं किया है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here