बेतिया में बाढ़ से लोग बेहाल,साड़ी से छान कर पी रहे बाढ़ का ही पानी,20 दिनों से सड़क किनारे बीत रही रातें

0
561
Share

बेतिया जिले में बाढ़ से तबाही मची है। कई इलाकों में पानी घुस गया है। लोग बेघर हो गए हैं। सड़क पर रहने को मजबूर हैं। घर छूटा तो सब कुछ पीछे रह गया है। मजबूरी ऐसी कि सड़क किनारे तंबू के नीचे रातें कट रही हैं। सरिसवा-महना मुख्य पथ पर सड़क के दोनों किनारे पिछले 20 दिनों से करीब 100 परिवार जिंदगी की आस में भूखे-प्यासे रहने को मजबूर हैं।

बाढ़ पीड़ितों के सामने सबसे बड़ी समस्या पेयजल की है। लोगों को साड़ी से छान कर वही पानी इस्तेमाल करना पड़ रहा है, जो बाढ़ की वजह से चारों तरफ फैला है। फिर भी ‘सुशासन बाबू’ के किसी भी प्रतिनिधि का दिल नहीं पसीज रहा है। हालांकि, यह जिला डिप्टी CM रेणु देवी और BJP के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल का है।

हर साल झेलते हैं पलायन का दर्द

सिकरहना और कोहड़ा नदी हर साल यहां कहर बरपाती है। लोगों को बेघर कर जाती है। पिछले 20 दिनों से 100 परिवार सड़क पर है, इनकी सुनने वाला कोई नहीं है। न खाने का ठिकाना है और ना पीने का पानी है। उनके सामने सिर्फ एक ही सवाल है क्या खुद खाएं और क्या बच्चों को खिलाएं? तंबू लगाकर दिन-रात रह रहे ये लोग मंझौलिया प्रखंड क्षेत्र की महनवा रमपुरवा पंचायत के नवका टोला के निवासी हैं। वे हर साल बाढ़ का दंश झेलते हैं और इसी तरह सड़क किनारे महीनों जिंदगी गुजार देते हैं।

ये बताते हैं कि अब तो सड़क किनारे तंबू लगाकर खानाबदोश जिंदगी गुजारना नियति बन चुकी है। महनवा रमुपरवा पंचायत के कई गांव सिकरहना नदी और कोहड़ा नदी की मार हर साल झेलते हैं और बाढ़ आने के साथ ही नवका टोला सहित कई गांवों में पानी भर जाता हैं, जिससे गांव टापू में तब्दील हो जाता है।

डिप्टी CM और BJP के प्रदेश अध्यक्ष का है क्षेत्र

बाढ़ पीड़ित बताते हैं कि प्रशासन इनकी ओर झांकने की भी जहमत नहीं उठाता है। किसी तरह प्लास्टिक तानकर, सड़क किनारे अस्थाई घर बनाकर जिंदगी जीते हैं, लेकिन ना तो कोई सरकारी मुलाजिम और ना ही कोई जनप्रतिनिधि इनकी सुध लेने आता है। बिहार के सत्ताधारी दल के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल इसी क्षेत्र के सांसद हैं और यह डिप्टी CM रेणु देवी का गृह जिला भी है।

तब मंत्री ने दिलाया था भरोसा

पिछले दिनों प्रभारी मंत्री नितिन नवीन के दौरे और समीक्षात्मक बैठक में DM कुंदन कुमार और प्रभारी मंत्री समेत डिप्टी CM रेणु देवी ने भी विगत दिनों बाढ़ का पानी निकलने और उतरने के बाद राहत बचाव कार्य शुरू करने का भरोसा दिलाया है, लेकिन अभी मौसम का मिजाज बदला-बदला है। लोगों को सरकारी मदद के लिए अभी और इंतजार करना होगा।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here