मास्क बांटने में CM का जिला 13वें स्थान पर,बांका निकला सबसे आगे तो कैमूर सबसे पीछे

0
578
Share

कोरोना की रोकथाम के लिए पंचायतों में मास्क बांटने में बिहार का बांका जिला सबसे आगे निकल गया है। पंचायती राज विभाग की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक बांका में हर गांव में औसत 15882 मास्क बांटे गए हैं, वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जिला इस मामले में 13 वें स्थान पर है। वहां 9283 मास्क हर गांव में बांटे गए हैं।

सभी जिलों से विभाग को भेजी गई रिपोर्ट

सभी जिलों से पंचायती राज विभाग को भेजे गए आंकड़ों की रिपोर्ट के मुताबिक बांका की 185 पंचायतों में सबसे अधिक मास्क वितरण किया गया है, लेकिन कैमूर में 149 पंचायतों में औसत महज 149 मास्क ही बांटे गए हैं। बांका के बाद कटिहार में 14937, भागलपुर में 14148 , पूर्णिया में 12967, पं चंपारण में 12619, वैशाली में 12089 , समस्तीपुर में 11961 और सुपौल में 11545 मास्क औसतन हर पंचायत में बांटे गए हैं। कैमूर के साथ ही गोपालगंज में भी कम मास्क बांटे गए हैं। यहां की 234 पंचायतों में औसतन 1400 मास्क बांटे गए हैं।

जीविका के 35 हजार से अधिक मास्क मिले खराब

सरकार की तरफ से जारी किए गए निर्देश में ग्राम पंचायतों को जीविका संपोषित ग्राम संगठन, संकुल संघ और खादी भंडार से मास्क खरीदने के निर्देश दिए गए थे। आपूर्ति में कमी होने पर स्थानीय स्तर पर भी निर्माण करवाने के लिए कहा गया था। यही वजह है कि सबसे अधिक मास्क की खरीददारी जीविका से की गई है। 8386 पंचायतों में 6 करोड़ 86 लाख 20 हजार मास्क बांटे गए, जिनमें 4 करोड़ 93 लाख 50 हजार मास्क जीविका से खरीदे गए। जीविका की तरफ से उपलब्ध कराए मास्क में 35 हजार मास्क खराबी के कारण वापस कर दिए गए। सबसे अधिक 4551 मास्क पूर्वी चंपारण में, 3000 वैशाली में और 2500 भागलपुर में खराब मिले।

10 करोड़ जीविका का बकाया, गया का सबसे अधिक बकाया

सरकार के निर्देश के अनुसार सभी परिवारों को छह-छह मास्क दिए जाने थे। इन मास्क की कीमत GST सहित 15 रुपए तय की गई थी। जीविका की तरफ से पूरे प्रदेश में 74 करोड़ के मास्क पंचायतों को उलपब्ध कराए गए हैं। इसमें 10 करोड़ 18 लाख 98 हजार की राशि का अबतक जीविका को भुगतान नहीं हुआ है। सबसे अधिक गया में 3 करोड़ 64 लाख, वैशाली में 1 करोड़ 36 लाख, अररिया 1 करोड़ 56 लाख जीविका दीदीयों का बकाया है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here