रात में चाचा ने एक साल की भतीजी को गला रेत कर मार डाला, दोपहर होते ही भाई ने लाठी से पीट-पीटकर कर दी हत्या

0
742
Share

गया के नक्सल प्रभावित इलाके गुरुआ से दिला दहला देने वाली खबर आई है। यहां के छेछू बिगहा गांव में 15 घंटे के भीतर एक ही परिवार के 2 लोगों की हत्या हो गई। रविवार रात एक साल की मासूम की गला रेतकर चाचा ने ही हत्या कर दी। इसके बाद सोमवार दोपहर बच्ची के पिता ने अपने सगे भाई को लाठी से पीट-पीटकर मार डाला।

गांव में ही था आरोपी संजय यादव

दरअसल, रामाशीष यादव, संजय यादव और विजय यादव तीन सगे भाई हैं। तीनों भाईयों के बीच जमीन को लेकर पिछले दो वर्षों से विवाद चल रहा था। संजय यादव और विजय यादव एक तरफ थे। वहीं, रामाशीष यादव अकेले था। रामशीष यादव की सात बेटियां हैं। रविवार रात करीब 11 बजे संजय यादव ने एक साल की भतीजी का गला रेत दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। बेटी की हत्या का आरोप रामाशीष यादव ने अपने भाई संजय यादव पर लगाया। इसके बाद आरोपी संजय यादव गांव में किसी के घर में जाकर छिप गया।

आरोपी को दौड़ाकर दबोचा और मार डाला

बच्ची की हत्या की खबर सुन कर रामाशीष के ससुराल और अन्य रिश्तेदार सोमवार सुबह छेछू बिगहा पहुंच गए। यह जानकारी मिलते ही आरोपी संजय को गांव छोड़कर भागने लगा। इसकी जानकारी मिलते ही रामाशीष रिश्तेदारों के साथ संजय यादव के पीछे दौड़ गए। करीब एक किलोमीटर की दूरी तक भागमभाग के बाद संजय यादव को पकड़ लिया और लाठी-डंडे से पीट- पीट कर मौके पर ही मौत की नींद सुला दिया।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा

घटना को अंजाम देने के बाद रामाशीष यादव और उसके रिश्तेदार फरार हो गए हैं। वारदात की सूचना पर गुरुआ पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई है। शव को कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम कराने के लिए भेज दिया है। मृतक संजय यादव का भाई विजय यादव भी पोस्टमार्टम के लिए गया है। हालांकि बच्ची की हत्या के बाद से विजय भी फरार हो गया था। लेकिन भाई संजय के मारे जाने की खबर के बाद वह आ गया है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here