सभी पीएचसी में लगेंगे ऑक्सीजन वाले पांच बेड, अनुमंडलीय अस्पताल में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट

0
501
Share

पटना जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के मरीज का इलाज स्थानीय स्तर पर होगा। इसके प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन वाले पांच बेड की व्यवस्था होगी। वहीं, अनुमंडलीय अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगेगा। यहां से बेड तकलिक्विड ऑक्सीजन की सप्लाई दी जाएगी। गंभीर रूप से बीमार मरीजों के लिए वेंटिलेटर उपलब्ध होगा। इसके साथ ही गांव से मरीजों को अस्पताल पहुंचाने के लिए प्रत्येक प्रखंड में दो एंबुलेंस रहेगी।

शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से समीक्षा बैठक के दौरान डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों से पीएचसी में आवश्यक स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मेडिकल सामग्री की खरीदारी के लिए तत्काल अधियाचना देने का निर्देश दिया। इसकी खरीदारी जिला स्तर पर होगी। डीएम ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों को स्थानीय स्तर पर इलाज की सुविधा उपलब्ध करानी है, ताकि दूरदराज के अस्पतालों में जाना नहीं पड़े।

बीमार लोगों के घर पर होगी कोरोना जांच

इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में बीमार लोगों के घर पर कोरोना जांच होगी। डीएम ने सिविल सर्जन को सभी आशा और एएनएम को कोविड किट उपलब्ध कराने में होने वाले खर्च का आकलन करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही सभी आशा और एएनएम को ऑक्सीमीटर उपलब्ध कराने को कहा है ताकि ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों के ऑक्सीजन लेवल की जांच कर डेडिकेटेड कोविड अस्पतालों में इलाज का निर्णय लिया जा सके।

हर प्रखंड में दो एंबुलेंस की होगी खरीदारी
मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत प्रत्येक प्रखंड में निजी व्यक्ति द्वारा 2-2 एंबुलेंस की खरीदारी की जा रही है। इसके लिए 108 आवेदन प्राप्त किए गए हैं। इसके सत्यापन के बाद खरीदारी की मंजूरी मिलेगी।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here