सहरसा में दो युवकों को भीड़ ने इतना मारा कि एक की हो गई मौत, किसी ने बचाने का नहीं किया प्रयास

0
1075
Share

सहरसा में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। यहां भैंस चोरी के आरोप में लोगों ने दो युवकों को पकड़ा और जमकर लाठी-डंडे से पिटाई की। सूचना पर पुलिस जब तक पहुंचती उससे पहले ही एक युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। दूसरे की स्थिति गंभीर है। इस दौरान लोग पिटाई का वीडियो बनाते रहे, लेकिन किसी ने उनकी जान नहीं बचाई। घटना रविवार रात सोनबरसा राज थाने के गढ़ अमृता गांव की है।

मृतक की पहचान पतरघट ओपी क्षेत्र के करीअत गांव के रूपेश पासवान के रूप की गई। जबकि, गंभीर रूप से जख्मी युवक अमृता गांव निवासी जस्सी यादव है।

घायल जस्सी ने बताया- ‘हम लोग घूमकर अपने घर जा रहे थे। इसी दौरान गांव में भैंस चोरी को लेकर लोगों ने शोर मचाया और पकड़ लिया। जमकर पिटाई की।’ जख्मी युवक के चाचा पूरण यादव ने बताया- ‘भैंस चोरी के आरोप में अमृता गांव के नवटोलिया के पास लोगों ने दोनों को पकड़ कर जमकर पिटाई की। इससे रूपेश की जान चली गई और जस्सी जख्मी है।’

भैंस चोरी के आरोप में दोनों को बांध कर गांव वालों ने पीटा।

भैंस चोरी के आरोप में दोनों को बांध कर गांव वालों ने पीटा।

वहीं, इस मामले को लेकर सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी इम्तियाज अहमद ने बताया- ‘मामला रविवार देर रात का है। भैंस चोरी के आरोप में दो युवकों की ग्रामीणों ने जमकर पिटाई की। इसमें एक युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई तो वहीं दूसरा युवक जख्मी है। शव को पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया है। इस मामले को पुलिस गंभीरता से ले रही है। मामला दर्ज कर दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here