सीतामढ़ी यूथ कांग्रेस ने फूंका अल्पसंख्यक मंत्री का पुतला

0
85
Share

अल्पसंख्यक कल्याण योजनाओं में भारी अनियमितता, जिला के सरकारी कार्यालयों में व्याप्त भ्रष्टाचार और मदरसा शिक्षकों को 28 माह से वेतन नहीं दिए जाने से नाराज सीतामढ़ी युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष मो. शम्स शाहनवाज के नेतृत्व में स्थानीय मेहसौल चौक पर अल्पसंख्यक मंत्री सह जिला के प्रभारी मंत्री मो.जमा खान का पुतला दहन किया और जमकर नारेबाजी की।

बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस के प्रवक्ता सह सीतामढ़ी जिलाध्यक्ष शम्स शाहनवाज ने कहा कि नीतीश सरकार की कुव्यवस्था और जनविरोधी नीतियों से जनता त्रस्त है। भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, अपराध, अफसरशाही बेलगाम है। लेकिन व्यवस्था को दुरुस्त करने की बजाए सत्तारूढ़ दल के मंत्री और नेता प्रदेश की बर्बादी का जश्न मना रहे हैं।

शम्स ने कहा कि 609 कोटि के मदरसा के शिक्षकों को 28 माह से वेतन नहीं मिला है, जिससे अधिकांश शिक्षकों के सामने भुखमरी की स्थिति पैदा हो गई है। अल्पसंख्यक मंत्री का आश्वासन भी जुमला साबित हुआ है। सीतामढ़ी जिले के चार मदरसा शिक्षकों की मौत आर्थिक तंगी की वजह से हो चुकी है। नीतीश सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा कि आखिर मदरसा बोर्ड कितने शिक्षकों की बलि लेगा?

युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष मो. शम्स ने कहा कि मेहसौल आरओबी के निर्माण में हो रही देरी और ट्रैफिक जाम जिलेवासियों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। सरकारी कार्यालयों में व्याप्त भ्रष्टाचार, अल्पसंख्यक कल्याण योजनाओं में लूट-खसोट से आमजन बेहाल है। सफाई के मानक में सीतामढ़ी फिसड्डी साबित हुआ है। लेकिन प्रभारी मंत्री जनसमस्याओं के समाधान की बजाए जदयू के प्रचार-प्रसार में व्यस्त हैं।

विरोध-प्रदर्शन में मो. निज़ामुद्दीन अंसारी, नीरज कुमार सिंह, सचिन कुमार, मो. सलीम, शेर मोहम्मद, बाबू नंदन राय, मो. नूरुल्लाह, आदिल खान, संजय सिंह, नसरुद्दीन हैदर, पवन कुमार, मो. हफीजुल, जितेंद्र यादव आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here