सुतिहारा में बाढ़ के पानी से कई एकड़ में लगी फसल बर्बाद

0
395
Share

परिहार सीतामढ़ी संवाद सहयोगी – प्रखंड के सुतिहारा गांव में बाढ़ के पानी से हजार एकड़ से अधिक में लगी धान की फसल बर्बाद होने की कगार पर है। किसानों को अपनी फसल की चिंता सता रही है। लेकिन कोई समाधान नजर नहीं आ रहा है। अगर यही हाल रहा तो किसानों के घर में इस साल धान का एक दाना भी नहीं आ पाएगा। जानकारी के मुताबिक मरहा नदी में किनारे में कटाव होने के कारण बाढ़ का पानी सुतिहारा गांव के सरेह में फैल गया है।

एक नए सड़क के निर्माण के कारण जल निकासी भी अवरुद्ध हो गया है। जिसके चलते विगत कई दिनों से फसल पानी में डूबा हुआ है। सामाजिक कार्यकर्ता सुशील कुमार मिश्रा के आग्रह पर जल संसाधन विभाग की टीम ने पिछले दिनों स्थल निरीक्षण किया। मिश्रा ने बताया कि टीम में शामिल एसडीओ अरुण कुमार, कनीय अभियंता एम ए खान एवं सरफराज आलम ने पानी का प्रवाह कम होने के बाद किनारे को बांधने का आश्वासन दिया है।

करीब 50 मीटर में कटाव का मरम्मती कराने की बात कही गई है। ग्रामीण रामबाबू गोसाईं ने बताया कि सुतिहारा से बारा जाने वाली नई सड़क के निर्माण के कारण जल निकासी नहीं हो पा रहा है। समस्या बनी रही तो किसान बर्बाद हो जाएंगे। सुधीर कुमार ने बताया कि बीते कई दिनों से फसल पूरी तरह पानी में डूबा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here