सुपौल में तस्करी के सामान के बंटवारे के विवाद में हुआ था ट्रिपल मर्डर

0
1539
Share

सुपौल के निर्मली में 2 अप्रैल को 3 लोगों की हत्या तस्करी कर लाए गए अष्टधातु से बने सामान के लेन-देन के विवाद में हुई थी। इन घटनाओं का तार अंतरराष्ट्रीय बाजार से जुड़ा हुआ है। शुक्रवार की सुबह सुपौल जिले के पिपरा थाना क्षेत्र के निर्मली में तीन लोगों की लाशें मिलने से सनसनी मच गई थी। तीनों लाशें सड़क किनारे पड़ी मिली थीं। ये हत्याएं इस इलाके के कुख्यात अपराधी रामचंद्र मंडल ने करवाई थीं।

सुपौल के SP मनोज कुमार के अनुसार नेपाल के तस्करों से अष्टधातु के सामान के एवज में करोड़ो रुपए का लेन-देन किया गया था। इस बीच तीनों में रुपए और अष्टधातु के सामान के बंटवारे में आपसी विवाद हुआ था। इसके बाद तीनों की हत्या कर दी गई।

इस पूरी घटना का मास्टरमाइंड करजाइन थाना क्षेत्र का शातिर अपराधी रामचंद्र मंडल था। रामचंद्र मंडल घटना को अंजाम देने के बाद नेपाल जाने की फिराक में था, तभी पुलिस ने वैज्ञानिक अनुसंधान के सहारे उसे निर्मली से गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं, इस घटना के दूसरे अपराधी राघोपुर थाना क्षेत्र के त्रिभुवन यादव को भी पुलिस ने धर दबोचा।

पुलिस ने ट्रिपल मर्डर के इस मामले में घटनास्थल से घटना के दौरान प्रयुक्त लाठी सिरिंज और खोखा के अलावे शराब की बोतल भी बरामद किया है। इसके अलावा पिछले महीने वार्ड पार्षद पति ललित यादव हत्याकांड और बगही के समीप एक युवक की लूट के दौरान हत्या में शामिल सात अपराधियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस तरह पुलिस ने तीन हत्याकांडों का खुलासा करते हुए कुल 9 अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here