सुपौल में मरीज को रेफर कर सीढ़ी पर छोड़ दिया, हालत बिगड़ने से मौत हुई तब लगा दी ऑक्सीजन

0
485
Share

कोरोना की दूसरी लहर ने सरकार के बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था के दावे की पूरी पोल-पट्‌टी खोल कर रख दी है। स्वास्थ्य विभाग की कुव्यवस्था की पोल शनिवार को सुपौल की सड़क पर खुली। घटना त्रिवेणीगंज की है। बुनियादी केंद्र में बने कोविड केयर सेंटर में एक कोरोना मरीज की ऑक्सीजन व एम्बुलेंस के अभाव में मौत हो गई।

मरीज की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग ने बेशर्मी की हदें पार कर दी। जीते जी मृतक को ऑक्सीजन तो नसीब नहीं हुई, ऐसे में उसने तड़प-तड़प कर जान दे दी। लेकिन मरने के बाद अपनी कमियां छिपाने के लिए विभाग ने मृत व्यक्ति का शव बीच सड़क पर रखकर ऑक्सीजन लगा दी। स्वास्थ्य विभाग की इस लापरवाही ने मानवीय संवेदना को झकझोर कर रख दिया। इतना ही नहीं, मृतक के पास बैठे उनके परिजन को पीपीई किट तक नही दिया गया।

रेफर कर केंद्र की सीढ़ी पर तड़पता छोड़ दिया

प्रखंड क्षेत्र के पिलुवाहा वार्ड 6 निवासी बीरेंद्र सरदार को उनके परिजन ने बुनियादी केंद्र में बने कोविड सेंटर में भर्ती कराया था। मृतक के परिजन ने बताया कि शनिवार को बीरेन्द्र सरदार की तबियत ज्यादा खराब हुई तो हम लोग उन्हें अनुमंडलीय अस्पताल लाए। जहां से उन्हें बुनियादी केंद्र में बने कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया। जिस समय बीरेन्द्र सरदार को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया था, उस समय मरीज का ऑक्सीजन लेवल 65 था। लेकिन वहां एक भी डॉक्टर मौजूद नहीं थे। केवल नर्स थी। हालांकि कुछ देर बाद जब डॉक्टर पहुंचे तो मरीज की नाज़ुक स्थिति को देखते हुए उसे तुरंत ही रेफर कर दिया। रेफर करने के बाद बुनियादी केंद्र की सीढ़ी पर तड़पता छोड़ दिया।

रेफर करने के बाद 4 घंटे तक ना तो एंबुलेंस मिली, ना ही ऑक्सीजन

परिजन यह भी बताते हैं कि इस दौरान एंबुलेंस की मांग भी करते रहे औऱ मरीज खुद ऑक्सीजन लगाने की बात कहता रहा। लेकिन लापरवाह स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं डॉक्टरों ने उनकी एक ना सुनी औऱ देखते ही देखते बीरेन्द्र सरदार की ऑक्सीजन औऱ एम्बुलेंस के अभाव में मौत हो गई।

प्रत्यक्षदर्शी बताते हैं कि इस मरीज को जिस समय अस्पताल लाया गया था, उस समय उनका ऑक्सीजन लेवल 34-35 था। मौजूद स्वास्थ्यकर्मी ने तुरंत ऑक्सीजन लगाने को कहा। लेकिन लापरवाह कर्मियों के आगे इस मरीज ने दम तोड़ दिया।

मामले में अपर अनुमंडल पदाधिकारी प्रमोद कुमार ने सरकार की बदइंतजामी पर पर्दा डालते हुए कहा कि जांच कराई जाएगी। जो भी दोषी होंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here