सोनापट्टी-इंदरवा मुख्य सड़क पर डाली गई ईंट लोगों के लिए बनी खतरनाक

0
685
Share

परिहार प्रखंड के सोना पट्टी इंदरवा पथ में सोना पट्टी स्थित उत्पन्न जलजमाव को कम करने के लिए सड़क पर रखा गया ईद का टुकड़ा लोगों के लिए खतरनाक बन गया है, प्रतिदिन बाइक व साइकिल सवार तथा पैदल यात्री उससे दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। अब उस होकर लोगों का आना-जाना मुश्किल बन गया है वहां समस्या कम होने के बजाय और बढ़ गया है लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं है।

भारतीय स्टेट बैंक परिहार से सोना पट्टी तक करीब 1 किलोमीटर तक हल्की वर्षा होने पर भी जलजमाव की स्थिति कायम हो जाती है। परिहार प्रखंड मुख्यालय में नाला नहीं रहने के कारण बराबर पानी बहता रहता है। जलजमाव की समस्या के अस्थाई समाधान के लिए किसी भी जनप्रतिनिधि या प्रखंड से लेकर जिला के पदाधिकारी तक ध्यान नहीं दे रहे हैं। स्थानीय व्यवसायियों द्वारा जलजमाव की समस्या से मुक्त होने के लिए कई बार निजी कोष से सड़क के बगल में गड्ढा खोदकर जल निकासी का प्रयास किया गया लेकिन प्रयास ज्यादा सफल नहीं हो सका है।

सोना पट्टी में ईद के टुकड़े को सड़क पर अच्छे ढंग से रखा भी नहीं गया है जिससे वाहनों के आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है खासकर वर्षा होने के बाद जल जमाव होने पर ईद के टुकड़े पानी में डूब जाते हैं इसके बाद उस होकर बाइक व साइकिल आदि छोटे वाहन गुजरते हैं तो वह फिसल कर दुर्घटना के शिकार हो जाते हैं पैदल अथवा बाइक सवार के दुर्घटना के शिकार होकर गिरने पर ईद के टुकड़े से जख्मी हो जाते हैं।

कुल मिलाकर पक्की सड़क पर ईद के टुकड़े डाल दिए जाने से समस्या कम होने की बजाय और बढ़ गया है विभागीय अधिकारियों द्वारा जल जमाव की स्थिति को समाप्त करने के स्थानीय उपाय के बदले तू करा डालकर और परेशानी बढ़ा दी गई है युवा राजद के प्रदेश सचिव कामरान आरिफ ने बताया कि सड़क मरम्मत के नाम पर एक डाल दिया गया है जिससे खतरनाक स्थिति उत्पन्न हो गई है सड़क निर्माण कंपनी पर अविलंब शिकंजा कसकर स्थाई उपाय करने की जरूरत है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here