हर घंटे 3 मौत है रफ्तार, बांका के 45 वर्षीय डॉक्टर ने तोड़ा दम, भागलपुर में साथी की मौत पर काम छोड़ बैठे ट्रॉली ब्वॉय काम पर लौटे

0
1306
Share

बिहार में कोरोना संक्रमितों की चेन टूट नहीं रही है। हर दिन रिकॉर्ड स्तर पर लोग संक्रमित हो रहे हैं। उसी रफ्तार से मौत भी हो रही है। आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश में हर घंटे 3 लोगों की जान जा रही है। बांका जिले के धोरैया अस्पताल में पदस्थापित 45 वर्षीय डॉक्टर प्रेम राज बहादुर का रविवार को कोरोना की वजह से निधन हो गया। वे मायागंज अस्पताल में भर्ती थे। उधर, भागलपुर के मायागंज अस्पताल में ट्रॉली चलाने वाले काम पर लौट आए हैं। इन लोगों ने साथी राजेश रंजन की मौत के बाद विरोध में काम करना बंद कर दिया था। डॉक्टरों के काफी समझाने के बाद वे काम पर लौटे हैं। मृतक राजेश रंजन के भाई का आरोप है कि अस्पताल प्रशासन की लापरवाही की वजह से उसकी जान चली गई।

अब तक का अपडेट

  • बांका के अमरपुर के राजद नेता बालमुकुंद मंडल की कोरोना से मौत हो गई। मुंगेर के एक प्राइवेट अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया। पहले उनका छोटा भाई कोरोना संक्रमित हुआ था। उसका इलाज कराने के दौरान राजद नेता बालमुकुंद मंडल पॉजिटिव हो गए थे। छोटे भाई की सेहत ठीक है।​​​​​​​

नेगेटिव रिपोर्ट पर भाई का आरोप

मायागंज अस्पताल में राजेश रंजन ट्रॉली ब्वॉय का काम करते थे। इस दौरान वे पॉजिटिव हो गए थे। डॉक्टरों ने उन्हें 10 दिन के लिए होम आइसोलेट कर दिया था। 14 अप्रैल को रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी । लेकिन इलाज के दौरान उसकी रविवार को मौत हो गयी। मृतक के भाई भी मायागंज अस्पताल में उसी के साथ काम कर रहे थे। उनका आरोप है कि मेरा भाई पॉजिटिव था। जबकि उसका रिपोर्ट नेगेटिव लिखा हुआ है। लापरवाही से मौत के कारण कई कर्मचारियों ने रविवार की सुबह से काम करना बंद कर दिया। इसके बाद अस्पताल प्रबंधन में हड़कंप मच गया। डॉक्टरों की ओर से काफी समझाने के बाद सभी ट्रॉली ब्वॉय काम पर लौट गए हैं।

अस्पताल का निरीक्षण पहुंचे DM पहुंचे यशपाल मीणा।

अस्पताल का निरीक्षण पहुंचे DM पहुंचे यशपाल मीणा।

बाइक से पहुंचे DM

नवादा के DM यशपाल मीणा ने स्वास्थ्य व्यवस्था का औचक निरीक्षण के लिए बाइक से सदर अस्पताल पहुंचे । देर रात डीएम के पहुंचने से अस्पताल कर्मियों में हड़कंप मच गया। DM ने अस्पताल में भर्ती मरीजों से मिलकर व्यवस्था का हाल जाना। डीएम ने अधिकारियों को भी आवश्यक निर्देश दिया। बिहार-झारखंड बॉर्डर पर स्थित रजौली के समीप जाम में फंसे ऑक्सीजन गाड़ी को निकालने के लिए DM यशपाल मीणा खुद पहुंच गए।

मायागंज अस्पताल में ट्रॉली ब्वॉय को समझाते डॉक्टर।

मायागंज अस्पताल में ट्रॉली ब्वॉय को समझाते डॉक्टर।

टूट रहा रिकॉर्ड

शनिवार को प्रदेश में 77 लोगों ने जान गंवा दी। 6741 लोगों ने कोरोना को मात तो दी लेकिन 12359 नए मामले सामने आ गए हैं। 24 घंटे में एक्टिव मामलों में 5441 की बढ़ोतरी हुई है जिससे प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या 81960 हो गई है। पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज में शनिवार को मौत का रिकॉर्ड टूट गया है। यहां 21 लोगों की मौत हो गई। पटना मेडिकल कॉलेज में 4 और AIIMS में 9 लोगों की जान इलाज के दौरान चली गई है।

ऐसे बढ़ रही है प्रदेश में कोरोना की रफ्तार

बिहार में शनिवार को 12359 नए मामले आए हैं। इसमें पटना में 2479, अररिया में 141, अरवल में 132, औरंगाबाद में 676, बांका में 158, बेगूसराय में 509, भागलपुर 695, भोजपुर में 223, बक्सर में 163, दरभंगा में 137, पूर्वी चंपारण में 284, गया में 745, गोपालगंज में 134, जमुई में 186, जहानाबाद में 267, कैमूर में 62, कटिहार में 214, खगड़िया में 149, किशनगंज में 87, लखीसराय में 70, मधेपुरा में 139, मधुबनी में 141, मुंगेर में 351, मुजफ्फरपुर में 447, नालंदा में 514, नवादा में 161, पूर्णिया में 352, रोहतास में 252, सहरसा में 270, समस्तीपुर में 222, सारण में 520, शेखपुरा में 59, शिवहर में 65, सीतामढ़ी में 138, सीवान में 256, सुपौल में 242, वैशाली में 239 और पश्विमी चंपारण कुल 357 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसी तरह बिहार के विभिन्न जिलों में बाहर से आए 43 लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here