RCP को आगे कर खुद को अलग किया,बोले- मंत्रिमंडल में शामिल होने का फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष करते हैं

0
386
Share

जनता दल यूनाइटेड (JDU) का हर फैसला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लेते रहे हैं, लेकिन केंद्रीय कैबिनेट विस्तार को लेकर मंगलवार को इससे उलट बयान दिया है। इससे पार्टी में हलचल बढ़ गई। बाढ़ क्षेत्र का हवाई निरीक्षण कर लौटे CM ने कहा कि मुझे नहीं पता है पार्टी से कितने मंत्री बनेंगे? अब संगठन से जुडे़ सारे फैसले JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह लेते हैं। केंद्रीय मंत्रिमंडल में कौन शामिल होगा, कितने लोग शामिल होंगे, ये सभी फैसले RCP सिंह ही लेंगे। PM नरेंद्र मोदी जो निर्णय लेंगे, वह बेहतर होगा।

नीतीश के इस बयान को राजनीति के जानकार दोतरफा तीर मान रहे हैं। पहला यह कि अगर RCP सफल हो गए तो भी क्रेडिट नीतीश को ही जाएगा, लेकिन अगर बात नहीं बनी तो RCP की डीलिंग में कुछ कमी मानी जाएगी।

दूसरी बात यह कि RCP के खुद मंत्री बनने की चर्चा है। ऐसे में अगर बात नहीं बनी तो RCP के पास नाराज होने का कोई बहाना नहीं होगा, क्योंकि सब कुछ तय करने के लिए बकौल नीतीश वे ही अधिकृत हैं।

बता दें कि JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह आज दिल्ली पहुंचकर BJP के शीर्ष नेताओं से मिल फाइनल राउंड की बात करेंगे।

CM बोले- हमारा फोकस सिर्फ सरकार चलाने पर

CM नीतीश कुमार मंगलवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करके लौटे तो उन्होंने बताया कि उन्होंने संगठन की जिम्मेदारी छोड़ दी है अब वो पूरी तरह से सरकार चलाने पर फोकस कर रहे हैं।

अगले सोमवार से जनता दरबार

CM ने बताया कि अब जनता दरबार लगाया जाएगा। अगले सोमवार इस कार्यक्रम को शुरू करेंगे। ये जनता दरबार पहले भी चलता था, लेकिन लोक सेवा अधिकार कानून शुरू होने से इसे बंद कर दिया गया था। अब लोगों की डिमांड है कि इसे शुरू की जाए तो महीने के तीन सोमवार को जनता दरबार लगेगा। इसमें हर जिले से लोगों को लाया जाएगा। उनके आने-जाने की पूरी व्यवस्था जिला प्रशासन की तरफ से की जाएगी।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्र से लौटे CM ने बताया कि पांच जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया है। कल भी तीन जिलों का हवाई दौरा करेंगे। CM नीतीश कुमार ने बताया कि अभी तमाम बाढ़ प्रभावित जिलों के अधिकारियों से बात करेंगे। किस तरह की समस्या है और क्या व्यवस्था की जा सकती है, इसकी पूरी जानकारी लेकर राहत शुरू की जाएगी।

उत्तर बिहार की तरफ गए मुख्यमंत्री ने बताया कि इस हवाई सर्वेक्षण में आपदा के अधिकारी भी मौजूद थे। नीतीश कुमार ने बताया कि अभी बाढ़ को लेकर बैठक करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here