RJD से नाता तोड़ने की राह पर हसनपुर विधायक तेजप्रताप यादव

0
1086
Share

लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव रूठ गए हैं। उन्होंने गुरुवार की शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस स्पष्ट कर दिया कि वे पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में तभी शामिल होंगे जब प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर कार्रवाई होगी। तेजप्रताप यादव ने कहा कि जगदानंद सिंह को मैंने अपने आवास पर दूध पिलाने का काम किया है लेकिन वे युवाओं को रोकने का काम कर रहे हैं। कहा कि सत्य की हमेशा जीत होती है और इस बार भी होगी। कहा कि लालू जी से मिलेगें। उससे पहले तेजस्वी जी से मुलाकात करेंगे।

प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह की ओर से ‘हू इज तेजप्रताप’ वाले बयान के बाद तेज प्रताप का गुस्सा और भड़क गया है। दरअसल, छात्र राजद के अध्यक्ष आकाश यादव को हटाए जाने के बाद मीडियाकर्मियों के सवालों का जवाब देते हुए जगदानंद सिंह ने कहा था कि ‘हू इज तेजप्रताप’।

हम पार्टी की कोर कमेटी में हैं, मेरा भी अधिकार है

तेज प्रताप यादव ने कहा कि बिना सोचे समझे हवा में नोटिस जारी कर रहे हैं जगदानंद सिंह। राजद के संविधान की धारा 33 का हवाला देते हुए कहा कि इसका ख्याल क्यों नहीं रखा गया? धमकी देते हुए उन्होंने कहा, ‘हम पर भी कार्रवाई कर देते, क्यों नहीं कर रहे हैं? पार्टी की कोर कमेटी में हम हैं। यह हमारा अधिकार है। कार्यकर्ताओं और युवाओं को हौसला तोड़ने का काम किया जा रहा है। कहा कि कठोर कार्रवाई नहीं हुई तो जगदानंद सिंह पर मुकदमा करेंगे। कोर्ट जाएंगे’।

शिवानंद तिवारी ने पिताजी लालू प्रसाद को जेल भिजवाया

तेज प्रताप यादव अपने आवास पर पत्रकारों से बात कर रहे थे। तेज प्रताप यादव ने रघुवंश प्रसाद सिंह और शिवानंद तिवारी की भी चर्चा की। उन्होंने कहा, ‘रघुवंश प्रसाद सिंह को अपनी कुर्सी पर बैठने के लिए किसने हटाया था। ये पूछिए जगदानंद सिंह से’। शिवानंद तिवारी पर भी तेज बिफरे और कहा कि शिवानंद तिवारी ने ही लालू प्रसाद को जेल भिजवाने का काम किया।

छात्र राजद के नए प्रदेश अध्यक्ष को नेता नहीं मानता

‘छात्र राजद के नए प्रदेश अध्यक्ष गगन यादव को मैं नेता नहीं मानता। तेजप्रताप ने कहा कि कल तक राष्ट्रीय जनता दल का रहिएगा और रात में बीजेपी के बैनर के नीचे लाल पानी लीजिएगा, उनको मैं नेता मान लूंगा। छात्र- नौजवान देख रहे हैं, पटना यूनिवर्सिटी में क्या हो रहा है। सब खबर रहती है मेरे पास। हम ऐसे ही सेकेंड लालू नहीं माने जाते हैं’।

राष्ट्रीय ध्वज का अपमान किया
तेजप्रताप ने कहा, ‘जगदानंद सिंह ने राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा का अपमान किया है। 15 अगस्त को झंडा फहराने पार्टी ऑफिस नहीं गए। पार्टी के संविधान का भी उन्होंने अपमान करने का काम किया है।इस तरह का काम करते रहेंगे तो हवा के नेता हो जाएंगे जगदानंद सिंह। हवा में फायर करेंगे तो जमीन के नेता नहीं बन पाएंगे। छात्रों- नौजवानों से पार्टी चलती है। सब लोगों का योगदान रहता है। चापलूसों को बैठाएंगे, विधायकों को धक्का मारकर बाहर करेंगे तो पार्टी नहीं चलेगी’।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here